August 21, 2016

आ इंतज़ार है तेरा-बड़ी माँ १९४५

सन १९४५ को गुज़रे ६१ साल हो गए लेकिन उस युग के
गीत सुनो तो अब भी ताजे लगते हैं. आइये आज सुनें
नूरजहाँ का गाया हुआ एक मधुर गीत जिसे जिया सरहदी
ने लिखा और दत्ता कोरगाँवकर ने संगीत से संवारा.

फिल्म का नाम है बड़ी माँ जिसमें ईश्वरलाल और नूरजहाँ
की प्रमुख भूमिकाएं हैं. ये फिल्म वर्ष १९४५ की टॉप पांच
फिल्मों में से एक है. फिल्म गीतों से भरपूर है और इसमें
१० गीत हैं.



गीत के बोल:

आ इंतज़ार है तेरा
दिल बेक़रार है मेरा
आ इंतज़ार है तेरा
दिल बेक़रार है मेरा

आ जा न सता और
आ जा न रुला और
आ जा न सता और
आ जा न रुला और

आ जा कि तू ही है मेरी उम्मीद का तारा
उम्मीद का तारा
उम्मीद का तारा
आ जा कि तू ही है मेरी उम्मीद का तारा
संगम मेरी ख़ुशियों का निगाहों का सहारा
संगम मेरी ख़ुशियों का निगाहों का सहारा

आ इंतज़ार है तेरा
दिल बेक़रार है मेरा

आ कर मेरी जागी हुई रातों को सुला दे
खो जाऊँ
खो जाऊँ मुझे ऐसा कोई गीत सुना दे
आ इंतज़ार है तेरा
दिल बेक़रार है मेरा
आ जा आ जा

अब और सितम
अब और सितम हम से उठाए नहीं जाते
उठाए नहीं जाते
और राज़ मोहब्बत के
और राज़ मोहब्बत के छुपाए नहीं जाते
छुपाये नहीं जाते

आ इंतज़ार है तेरा
दिल बेक़रार है मेरा
दिल बेक़रार है मेरा
…………………………………………………….
Aa intazar hai tera-Badi Maa 1945

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP