August 22, 2016

घड़ी घड़ी पूछो ना-अनोखा प्यार १९४८

आइये सुनें घड़ी हिट्स श्रृखंला से एक गीत. इसमें दो बार घड़ी
शब्द आया है अतः ये हुआ घड़ी-घड़ी हिट गीत. इन्हीं शब्दों से
फिल्म मधुमती का एक लोकप्रिय गीत भी है वो गीत भी लता
का गाया हुआ है.

गीत में घडी से तात्पर्य है समय से. थोड़ी थोड़ी देर में बार बार
कोई बात हो तो उसे कहते हैं घड़ी-घड़ी घटित होना. जैसे बारिश
की झड़ी भी कभी-कभी घड़ी-घड़ी लग जाती है.

गोपाल सिंह नेपाली का लिखा गीत है जिसे अनिल बिश्वास ने
संगीत से सजाया है. ये सजाना संवारना शब्द हमने रेडियो सुन
के ही तो सीखे हैं. आखिर को मीडिया से भी हम बहुत कुछ सीख
सकते हैं जैसे ये वाक्य बोलना-सवाल उठना, सवाल खड़ा होना
इत्यादि. गीत फिल्माया गया है नलिनी जयवंत पर जिन्होंने इस
फिल्म में मालन की भूमिका निभाई है.




गीत के बोल:

घड़ी घड़ी पूछो ना जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना

नैनों में वो हैं ऐसे
नैनों में वो हैं ऐसे
सावन में रिमझिम जैसे
रिमझिम रिमझिम झिम
नैनों में वो हैं ऐसे
आँखों आँखों में समझो
कौन मेरा मीत है
आँखों आँखों में समझो
कौन मेरा मीत है

घड़ी घड़ी पूछो ना जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना

जब तक बलम न बोलूं
जब तक बलम न बोलूं
आ के न घूँघट खोले बलमा मोरे
आ के न घूँघट खोले
प्रीत की कलियाँ छुपा रखने की रीत है
प्रीत की कलियाँ छुपा रखने की रीत है
घड़ी घड़ी पूछो न जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना

घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना
घड़ी घड़ी पूछो ना जी
किनसे मेरी प्रीत है
घड़ी घड़ी पूछो ना
......................................................................
Ghadi ghadi poochho na-Anokha Pyar 1948

Artist: Nalini Jaywant

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP