August 31, 2016

हर किसी को नहीं मिलता-जांबाज़ १९८६

प्रस्तुत है फिल्म जांबाज़ से एक गीत. इस फिल्म के एक
गीत ने तहलका मचाया था-प्यार दो प्यार लो. वैसे फिल्म
के सभी गीत कर्णप्रिय हैं.

इस फिल्म को देखते समय मेरे दिमाग में एक विचार कौंधा
थे-फिरोज खान के चरित्र का नाम इस फिल्म में राजेश है.
उन्हें इस नाम से काफी लगाव रहा. हास्य अभिनेता महमूद
को ‘महेश’ नाम बेहद पसंद था. अमिताभ बच्चन के किरदारों
का नाम कई फिल्मों में ‘विजय’ है.

आज का गीत है मनहर और कंचन का गाया युगल गीत जो
थोडा निराशावादी है.



गीत के बोल:

हर किसी को नहीं मिलता
हर किसी को नहीं मिलता यहाँ प्यार जिंदगी में
खुशनसीब हैं वो जिनको है मिली ये बहार जिंदगी में

होठों से होंठ मिले ना मिलें चाहे मिले ना बाहें बाहों से
दो दिल जिंदा रह सकते हैं चाहत से भरी निगाहों से
चाहत से भरी निगाहों से
.....................................................................................
Har kisiko nahin milta-Janbaaz 1986

Artists: Sridevi, Feroz Khan

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP