August 25, 2016

मधुबन में राधिका नाचे रे-कोहिनूर १९६०

जन्माष्टमी के सुअवसर पर सुनते हैं राधा और गिरधर को
याद करते हुए फिल्म कोहिनूर का गीत. सबसे पहले कृष्ण
जी को हैप्पी बर्थडे कह लेते हैं.

रफ़ी का गाया यह एक बेहद लोकप्रिय गीत है. गौरतलब है
रफ़ी ने भजन बहुत बढ़िया गाये हैं. कई गैर फ़िल्मी भजन
उपलब्ध हैं रफ़ी की आवाज़ में.

प्रस्तुत गीत शकील बदायूनीं का लिखा हुआ है. इसका संगीत
तैयार किया है नौशाद ने. गीत में एक तराना भी है जिसके
बोल भी यहाँ दिए गए हैं. कोई त्रुटि हो तो एडवांस में क्षमा
मांग लेते हैं.




गीत के बोल:

आ आ आ आ आ आ
मधुबन में राधिका नाचे रे
मधुबन में राधिका नाचे रे
गिरधर की मुरलिया बाजे रे
गिरधर की मुरलिया बाजे रे
मधुबन में राधिका नाचे रे

पग में घुँघर बाँध के
आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ
पग में घुँघर बाँध के
घूँघटा मुख पर डार के
नैनन में कजरा लगा के रे ए ए

मधुबन में राधिका नाचे रे

डोलत छम-छम कामिनी
आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ आ
डोलत छम-छम कामिनी
चमकत जैसे दामिनी
चंचल प्यारी छवि लागे रे ए ए

मधुबन में राधिका नाचे रे
गिरधर की मुरलिया बाजे रे
मधुबन में राधिका नाचे रे

मृदंग बाजे तिर किट धूम तिर किट धूम ता था
मृदंग बाजे तिर किट धूम तिर किट धूम ता था
नाचत छूम छूम ता थई ता थई था
छूम छूम छनन न न छूम छूम छनन न न
क्रांत क्रांत का धा
मधुबन में राधिका नाचे रे

मधुबन में राधिका
आलाप.....................
मधुबन में राधिका नाचे रे
आलाप......................
मधुबन में राधिका

नी सा रे सा गा रे मा गा पा मा
धा पा नी धा सा नी रे सा
रे सा नी धा पा मा
पा धा नी सा रे सा नी धा पा मा
पा गा मा
धा पा गा मा रे सा

मधुबन में राधिका नाचे रे
सा सा सा नी धा पा मा
पा धा पा गा मा रे सा नी रे सा
सा सा गा मा धा धा नी धा सा
मधुबन में राधिका नाचे रे
मधुबन में राधिका

ओ दे ना दिर दिर धा नि ता धा रे
दीम दीम ता ना ना
ना दिर दिर धा नि ता धा रे
दीम दीम ता ना ना
ना दिर दिर धा नि ता धा रे
दीम दीम ता ना ना
ना दिर दिर धा नी ता धा रे
ओ दे ता ना दिर दिर ता ना
दिर दिर दिर दिर तुम दिर दिर दिर
धा तिरकिट तक दुम तिरकिट तक
तिरकिट तिरकिट ता धा नी
ना दिर दिर धा नी ता
ओ दे ना दिर दिर धा नि ता
ओ दे ना दिर दिर धा नि ता
धीम धीम ता ना ना
............................................................................
Madhuban mein radhika nache re-Kohinoor 1960

Artist:Dilip Kumar

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP