August 21, 2016

सुन मेरे सजना-निश्चय १९९२

‘सुन मेरे साजना’ सीरीज़ से अगला गीत पेश है.इसमें थोडा सा
फेरबदल हुआ है. साजना कि जगह सजना शब्द का इस्तेमाल
हुआ है. गौरतलब है सन १९५३ के गीत के रचयिता और इस
१९९२ के गीत के रचयिता कमर जलालाबादी ही हैं, ये संयोग
है. इस गीत के संगीतकार अलबत्ता दुसरे हैं और वो भी अपने
समय के धाँसू संगीत देने वालों में गिने जाते थे-ओ पी नैयर.

गीत के पहले के डायलोग अवश्य सुनें, रोचक हैं. सलमान खान
और करिश्मा कपूर पर ये गीत फिल्माया गया है. गीत रोचक
है सवाल-जवाब वाला. अमित कुमार और कविता कृष्णमूर्ति ने
इसे गाया है.

गीत में नायिका कल्पना करती है और उसके हाथों में मेहँदी
छप जाती है और गहने चिपक जाते हैं. गीतों में ये सब सोचने
से ही हो जाता है जिसके लिए आम आदमी सोचता ही रह जाता
है. सोच सोच का फर्क है.

फिल्मों में धुप्पल का अहम स्थान है. दक्षिण भारत की फिल्मों
में जब मरियल सा हीरो खलनायक को एक घूंसे से दूसरे ग्रह
पहुंचा देता है तब लगता है इस देश की व्यवस्था को उन्हीं के
हाथों में सौंप देना चाहिए.
   



गीत के बोल:

सुन मेरे सजना सजना बोल मेरी सजनी
सुन मेरे सजना सजना बोल मेरी सजनी
सुन मेरे सजना सुन रे मेरे हाथ में क्या है
कंगना
तो चल फिर मेरे अंगना
सुन मेरे सजना सुन मेरे हाथ में क्या है
कंगना
तो चल फिर मेरे अंगना

सुण मेरी सजनी सुन री  अंगना में क्या है
बूटा
ओ तेरे प्यार ने लूटा
सुन मेरी सजनी सुन री अंगना में क्या है
बूटा
ओ तेरे प्यार ने लूटा
सुन मेरे सजना सुन रे बूटा में क्या है
कलियाँ
तो फिर चल मेरी गलियां
सुन मेरे सजना सुन रे बूटा में क्या है
कलियाँ
तो फिर चल मेरी गलियां

सुन मेरी सजनी सुन री गलियों में क्या है
सखियाँ
मुझे मार न अँखियाँ
सुन मेरी सजनी सुन री गलियों में क्या है
सखियाँ
मुझे मार न अँखियाँ
सुन मेरे सजना सुन रे सखियाँ क्या खेलें
होली
तो कब लाएगा डोली
सुन मेरे सजना सुन रे सखियाँ क्या खेलें
होली
तो कब लाएगा डोली

सुन मेरी सजनी सुन री  डोली क्या मांगे
छैला
तो फिर बन मेरी लैला
सुन मेरी सजनी सुन री  डोली क्या मांगे
छैला
तो फिर बन मेरी लैला
सुन मेरे सजना सुन रे लैला क्या लगती
गुडिया
मैं तेरे प्यार की पुड़िया
सुन मेरे सजना सुन रे लैला क्या लगती
गुडिया
मैं तेरे प्यार की पुड़िया

सुन मेरी सजनी सुन री पुड़िया में क्या है
जादू
मेरा दिल नहीं काबू
सुन मेरी सजनी सुन री पुड़िया में क्या है
जादू
मेरा दिल नहीं काबू
सुन मेरे सजना सुन रे गुडिया क्या मांगे
झुमके
हो मैं मर गयी तुमपे
सुन मेरे सजना सुन रे गुडिया क्या मांगे
झुमके
हो मैं मर गयी तुमपे

सुन मेरी सजनी सुन री  गुडिया का काजी
राजी
तो चल कर ले शादी
सुन मेरी सजनी सुन री  गुडिया का काजी
राजी
तो चल कर ले शादी
सुन मेरे सजना सुन रे मेरे हाथ में क्या है
कंगना
तो चल फिर मेरे अंगना
सुन मेरे सजना सुन रे मेरे हाथ में क्या है
कंगना
तो चल फिर मेरे अंगना
..................................................................................
Sun mere sajna-Nishchay 1992

Artists: Salman Khan, Karishma Kapoor

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP