October 29, 2016

मेरी जिंदगी में आये हो-अरमान २००३

सन २००० के बाद फ़िल्मी गीतों में टर्बोचार्जर लगना शुरू हो
गया. ऐसे मैंने एक डिस्कशन के दौरान सुना. मेरी इच्छा हुई
टर्बो को टर्बिड बोलने की मगर कुछ सोच के चुप रह गया.
नए गीतों में शांत किस्म के गीत बहुत कम होते हैं, ऐसे गीत
जो आप बिना कान और दिमाग पर जोर दिए सुन सकें.

अक फिल्म थी काले पीले युग की सिस्में बर्मन दादा का संगीत
था. फिर आई कलरफुल युग की अरमान जिसमें बप्पी लहरी का
संगीत है-रम्भा हो हो हो वाली अरमान. ये है सन २००३ की
अरमान और इसमें शंकर एहसान लॉय का संगीत है.

सोनजू निगम और सुनिधि चौहान का गाया और जावेद अख्तर
का लिखा गीत है ये जिसे ग्रेसी सिंह और अनिल कपूर पर
फिल्माया गया है. गीत में अमिताभ बच्चन के दर्शन भी हो
जाते हैं. साइकिलिंग अभी भी रोमांटिक है इस गीत से तो हमें
यही लगता है.



गीत के बोल:

मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम
मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम
तुम ही कहो तुम ही कहो
दिल जो ऐसे गाये कोई क्यूँ ना गुनगुनाये
मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम

तुम को आ के हंस के गा के
निखरी है संवरी है जिंदगी
उस्जली सबकी रंगीन शामें
आ गयी एक नयी दिलकशी
हो मान भी लो मान भी लो
रात जो है चहकी ये फिजा जो समझाए
मेरी जिंदगी में
मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम

तुमसे पहले देखे कब थे
मैंने ये ख्वाबों के कारवां
तुम जो आये तुम हो लाये
अनकही अनसुनी दास्तान
ओ सुनो ज़रा सुनो ज़रा
मेरा दिल भी है वो कहानी दोहराये
मेरी जिंदगी में
मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम
तुम ही कहो तुम ही कहो
दिल जो ऐसे गाये कोई क्यूँ ना गुनगुनाये
मेरी जिंदगी में आये हो और ऐसे आये हो तुम
जो घुल गया है साँसों में वो गीत लाये हो तुम
..........................................................................
Meri zindagi mein aaye ho-Armaan 2003

Artists: Anil Kapoor, Gracy Singh

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP