October 2, 2016

नंगे नंगे पाँव चल आ गया-देवी भजन

आज शारदीय नवरात्रि का दूसरा दिन है, तिथि एकम अर्थात प्रतिपदा
ही है. ये महसंयोग १६ वर्ष उपरान्त निर्मित हुआ है. तिथि अनुसार
आज भी माता शैलपुत्री की पूजा ही की जायेगी.

आज सुनते हैं ममतामयी करुणामयी माता जगदम्बा का एक भजन
जिसे नरेन्द्र चंचल ने गाया है.




भजन के बोल:

नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
तेरा पुजारी मैया तेरा पुजारी
तेरा पुजारी मैया तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी

हाथो में ले कर गंगा जल गागर
हाथो में ले कर गंगा जल गागर
हाथो में ले कर गंगा जल गागर
हाथो में ले कर गंगा जल गागर
श्रद्धा से स्नान करा गया नी माँ एक तेरा पुजारी
श्रद्धा से स्नान करा गया नी माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी

लाल लाल चोला किनारी गोटे वाला
लाल लाल चोला किनारी गोटे वाला
लाल लाल चोला किनारी गोटे वाला
लाल लाल चोला किनारी गोटे वाला
लाल लाल चुनरी ओढा गया री माँ एक तेरा पुजारी
लाल लाल चुनरी ओढा गया री माँ एक तेरा पुजारी

ओ नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी

चांदी की कटोरी में केसर घोल के
चांदी की कटोरी में केसर घोल के
चांदी की कटोरी में केसर घोल के
चांदी की कटोरी में केसर घोल के
माथे पे तिलक गया री माँ एक तेरा पुजारी
माथे पे तिलक गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी

चंपा चमेली गुलाब जूही गेंदा
चंपा चमेली गुलाब जूही गेंदा
चंपा चमेली गुलाब जूही गेंदा
चंपा चमेली गुलाब जूही गेंदा
पुष्पों की माला पहना गया री माँ एक तेरा पुजारी
पुष्पों की माला पहना गया री माँ एक तेरा पुजारी

ओ नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
तेरा पुजारी मैया तेरा पुजारी
तेरा पुजारी मैया तेरा पुजारी

नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
हो नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
नंगे नंगे पाँव चल आ गया री माँ एक तेरा पुजारी
.........................................................................
Nange nange paanv chal-Mata bhajan

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP