October 29, 2016

सूनी सूनी साँस के सितार-लाल पत्थर १९७१

आज आपको सुनवाते हैं आशा भोंसले का गाया हुआ फिल्म
लाल पत्थर का एक गीत. नीरज का लिखा गीत है जिसकी
धुन तैयार की है शंकर जयकिशन ने.

सन १९६४ में बनी बंगला फिल्म लाल बंगला का रीमेक है
ये १९७१ की हिंदी फिल्म. राजकुमार, हेमा मालिनी, राखी,
विनोद मेहरा, अजीत, सप्रू, लीला मिश्रा जैसे कलाकारों से
सजी है ये फिल्म. हेमा मालिनी ने फिल्म में नकारात्मक
भूमिका निभाई है जिसकी काफी प्रशंसा हुई थी.

प्रस्तुत गीत राखी पर फिल्माया गया है. फिल्म के चरित्र
ने शास्त्रीय संगीत सीखा हुआ है और उसी हिसाब से आशा
से इस गीत में तानें गवाई गई हैं.




गीत के बोल:

सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर
सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर
एक गीत सुन रही है ज़िंदगी
एक गीत गा रही है ज़िंदगी
सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर

प्यार जिसे कहते हैं
प्यार जिसे कहते हैं खेल है खिलोना है
आज इसे पाना है कल इसे खोना है
आज इसे पाना है कल इसे खोना है

सूनी सूनी सूनी सूनी
सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर
एक सुर मिला रही है ज़िंदगी
एक सुर भुला रही है ज़िंदगी

सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर
सूनी सूनी साँस के सितार पर

कोई कली गाती है
कोई कली गाती है कोई कली रोती है
कोई आँसू पानी है कोई आँसू मोती है
कोई आँसू पानी है कोई आँसू मोती है

सूनी सूनी साँस के सितार पर
भीगे भीगे आँसुओं की तार पर
किसी को हँसा रही है ज़िंदगी
किसी को रुला रही है ज़िंदगी
सूनी सूनी साँस के सितार पर
सूनी सूनी साँस के सितार पर
.............................................................
Sooni sooni saans ke sitar par-Lal Patthar 1971

Artists: Raj Kumar, Rakhi

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP