November 9, 2016

आ भी जा बेवफा-रात के राही १९५९

बिपिन बाबुल के संगीत निर्देशन वाला एक गीत आपको सुनवाया
था हमें कुछ समय पहले. आज सुनते हैं शम्मी कपूर की फिल्म से
एक गीत जिसमें उनकी नायिका हैं जबीन जलील.

शम्मी कपूर, राजेंद्र कुमार और उनके बाद की पीढ़ी से अनिल कपूर
ऐसे अभिनेता हैं जिन्होंने अपने कैरियर में ढेर सारी अभिनेत्रियों के
साथ काम किया है. फ्लेग्ज़ीबिलिटी एक कॉमन फैक्टर है इन सब
में और आप पाएंगे इन्होने अपने कैरियर में बड़े मुकाम हासिल
किये. ये मेरा अनुमान है और इस विषय पर हम चर्चा कर सकते
हैं जो यहाँ शून्य के बराबर होती है, खैर छोडिये, गीत सुनते हैं.

गीत विश्वामित्र आदिल का लिखा, आशा भोंसले का गाया हुआ है.
परंपरागत आवाजों से शुरू होता गीत विलायती खुशबू ले आता
है धीरे से. आपने ऐसे गीत अक्सर क्लबों में फिल्माए हुए देखे
होंगे. ये चेंज के लिए समुन्दर किनारे फिल्माया गया है. गीत
में मर्दाना आवाज़ आगा सरवर की है.



गीत के बोल:

रात की तन्हाई प्यार की अंगडाई
ओ सनम कैसे कहूँ दिल मेरा है जवान

आ भी जा बेवफा दिल की राहों में आ
अपने ही ख्वाब की ढलती छाँव में आ
आ भी जा बेवफा दिल की राहों में आ
अपने ही ख्वाब की ढलती छाँव में आ

झुकती नज़रें उठते फितने
अब छुपेंगे अरमान कितने
झुकती नज़रें उठते फितने
अब छुपेंगे अरमान कितने
हो हो हो हो हो हो
आ भी जा बेवफा दिल की राहों में आ
अपने ही ख्वाब की ढलती छाँव में आ

बहकी जुल्फें महकी रातें
ला ला ला ला ला ला ला
देख ही भी कह दे बातें
बहकी जुल्फें महकी रातें
देख ही भी कह दे बातें
आ हा हा हा हा हा हा
आ भी जा बेवफा दिल की राहों में आ
अपने ही ख्वाब की ढलती छाँव में आ

जाम-ऐ-उल्फत पीना होगा
मर के हमपे जीना होगा
जाम-ऐ-उल्फत पीना होगा
मर के हमपे जीना होगा
आ भी जा बेवफा दिल की राहों में आ
अपने ही ख्वाब की ढलती छाँव में आ
................................................................
Aa bhi ja bewafa-Raat ke raahi 1959

Artists; Shammi Kapoor, Jabeen Jalil

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP