July 17, 2017

जाने कहाँ गए वो दिन-मेरा नाम जोकर १९७०

फिल्म मेरा नाम जोकर की जो सबसे ज्यादा प्रसिद्ध
चीज़ें हैं उनमें से एक है ये गीत. हसरत जयपुरी ने
काफी सारे रोमांटिक गीत लिखे हैं मगर उनके लिखे
कुछ दर्द भरे गीत भी लोकप्रिय हैं. ये शायद ऐसे
गीतों में सबसे ज्यादा प्रसिद्धि पाने वाला गीत है.

दर्द का सैलाब समेटे हुए ये गीत आज कालजयी गीत
कहलाता है. फिल्म का सबसे लंबे समय तक याद
रखा जाने वाला हिस्सा भी यही साबित होगा बरसों
बाद जिसके साथ आप-जीना यहाँ मरना यहाँ गीत को
भी जोड़ सकते हैं.



गीत के बोल:

जाने कहाँ गए वो दिन  कहते थे तेरी राह में
नज़रों को हम बिछाएंगे
जाने कहाँ गए वो दिन  कहते थे तेरी राह में
नज़रों को हम बिछाएंगे
चाहे कहीं भी तुम रहो  चाहेंगे तुमको उम्र भर
तुमको ना भूल पाएंगे

मेरे कदम जहाँ पड़े  सजदे किये थे यार ने
मेरे कदम जहाँ पड़े  सजदे किये थे यार ने
मुझको रुला रुला दिया  जाती हुई बहार ने

जाने कहाँ गए वो दिन  कहते थे तेरी राह में
नज़रों को हम बिछाएंगे
चाहे कहीं भी तुम रहो  चाहेंगे तुमको उम्र भर
तुमको ना भूल पाएंगे

अपनी नज़र में आज कल  दिन भी अंधेरी रात है
अपनी नज़र में आजकल  दिन भी अंधेरी रात है
अपनी नज़र में आजकल  दिन भी अंधेरी रात है
साया ही अपने साथ था  साया ही अपने साथ है

जाने कहाँ गए वो दिन  कहते थे तेरी राह में
नज़रों को हम बिछाएंगे
चाहे कहीं भी तुम रहो  चाहेंगे तुमको उम्र भर
तुमको ना भूल पाएंगे

इस दिल के आशियाने में बस उनके ख़याल रह गये
तोड़ के दिल वो चल दिये  हम फिर अकेले रह गये
जाने कहाँ गए वो दिन  कहते थे तेरी राह में
नज़रों को हम बिछाएंगे
चाहे कहीं भी तुम रहो  चाहेंगे तुमको उम्र भर
तुमको ना भूल पाएंगे
……………………………………………………..
Jaane kahan gaye wo din-Mera naam joker 1970

Artist: Raj Kapoor

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2017. Powered by Blogger

Back to TOP