April 21, 2018

जो तू आई हमारे घर में-अबू कालिया १९९०

सन १९९० की फिल्म अबू कालिया से दिलराज कौर का गाया
एक गीत सुनते हैं जिसे ऐश कँवल ने लिखा है और इस गीत
का संगीत तैयार किया है जतिन श्याम ने.

आपको रेयर गीत सुनवाने का हमारा वादा है इसलिए कभी कभी
आपको विशेष तौर पर ऐसे गीत सुनवाते हैं.




गीत के बोल:

जो तू आई हमारे घर में
लो फैला आज उजियारा
लो फैला आज उजियारा
जो तू आई हमारे घर में
लो फैला आज उजियारा
लो फैला आज उजियारा
जो तू आई

ले के बहारें संग तू जो चली आई रे
मैंने भी खुशियों की महफ़िल सजाई रे
बाहों में तुझे लूं या दिल में बिठाऊं मैं
कितना है प्यार तुझे कैसे बताऊं मैं
कितना है प्यार तुझे कैसे बताऊं मैं

मेरे जीवन की बगियाँ में खिला है फूल ये प्यारा
लो फैला आज उजियारा
जो तू आई
....................................................
Jo too aayi hamare ghar mein-Abu Kaliya 1990

Artist: Anuradha Sawant

Read more...

झनन झनन बाजे-चाँद और सूरज १९६५

फिल्म मून एंड सन से अगला गीत सुनते हैं जिसमें नृत्य हो
रहा है. ऐसे गीत बड़े लुभावने होते हैं. इसे हमारे अनुमान के
हिसाब से झनन-झनन श्रेणी में रखना उपयुक्त होगा.

शैलेन्द्र ने गीत लिखा है और सलिल चौधरी ने इसकी धुन बनाई
है. गायिका को आप पहचान ही लेंगे. नायिका का नाम हम
बतलाये देते हैं-तनूजा. अचरज और आश्चर्य के भाव चेहरे पर
कैसे लाये जाते हैं उसका एक अच्छा ट्यूटोरियल है ये गीत.



गीत के बोल:

झनन झनन बाजे बाजे
झनन झनन बाजे
बिछुवा बाजे ननदी जागे
कैसे आऊँ मितवा मोरे
झनन झनन बाजे
बिछुवा बाजे ननदी जागे
कैसे आऊँ मितवा मोरे
झनन झनन बाजे

आई द्वार पे जब से ये रैन कजरारी
देखूँ प्यार के सपने मैं बिरहा की मारी
आई द्वार पे जब से ये रैन कजरारी
देखूँ प्यार के सपने मैं बिरहा की मारी
मोहे कोई न देखेगा छाई रहेगी अंधियारी

झनन झनन बाजे
बिछुवा बाजे ननदी जागे
कैसे आऊँ मितवा मोरे
झनन झनन बाजे
झनन झनन झनन झनन झनन झनन बाजे
बाजे
प ग, ग प ध ग, ग प ध नि, ध नि स ध,
ध नि स ध, नि ध, ध ग, प ग, स नि स

कैसे आज मनाऊँ मेरा मन नहीं माने
कहे लाज शर्म के तू छोड़ दे बहाने
कैसे आज मनाऊँ मेरा मन नहीं माने
कहे लाज शर्म के तू छोड़ दे बहाने
वो हैं तेरे तू उनकी है बाकी सारा जग जाने

झनन झनन बाजे
बिछुवा बाजे ननदी जागे
कैसे आऊँ मितवा मोरे
झनन झनन बाजे
झनन बाजे झनन बाजे
झनन न झनन न बाजे
……………………………………………………
Jhanan jhanan baaje-Chand aur Suraj 1965

Artist: Tanuja, Asit Sen

Read more...

April 20, 2018

मैं चली मैं चली देखो-पड़ोसन १९६८

लता मंगेशकर और आशा भोंसले के गाये तकरीबन ९० के
आसपास युगल गीत हैं जो हम आपको पहले बतला चुके हैं.
आज सुनते हैं उन्हीं में से एक गीत फिल्म पड़ोसन से. ढेर
सारी लड़कियां साइकिल चलते हुए ये गीत गा रही हैं. संगीत
की आवाज़ शायद साइकिल के कल पुर्जों में से आ रही होगी.
जिसे प्लेबैक का कंसेप्ट नहीं मालूम हो वो तो ऐसा ही कुछ
सोचेगा ना !

सुनते हैं गीत जिसे राजेंद्र कृष्ण ने लिखा है और इसकी धुन
तैयार की है आर डी बर्मन ने. उम्मीद है इस गाने के बाद
गीत में दिखलाई दे रही कई लड़कियों का फिटनेस लेवल बढ़
गया होगा. इसे कहते हैं कैलोरी जलने वाला गीत.





गीत के बोल:

मैं चली मैं चली देखो प्यार की गली
मुझे रोके न कोई मैं चली मैं चली
मैं चली मैं चली देखो प्यार की गली
मुझे रोके न कोई मैं चली मैं चली
ना ना ना मेरी जां देखो जाना न वहाँ
कोई प्यार का लुटेरा लूटे न मेरी जां
हा हा हा मेरी जां देखो जाना न वहाँ
कोई प्यार का लुटेरा लूटे न मेरी जां
रे बा बा

ये फ़िज़ा ये हवा ये नज़ारे ये समा
अब प्यार न हुआ तो फिर कब होगा
कोई खेल तो नहीं ये है प्यार मेरी जां
तुझे पता भी न चलेगा ये जब होगा
मैं चली मैं चली देखो प्यार की गली
मुझे रोके न कोई मैं चली मैं चली
रे बा बा ला ला ला ला ला
ला ला ला ला ला ला ला ला ला ला
रे बा बा ला ला ला ला ला

है जवानी ये दीवानी कोई समझाए क्या
कब रोकने से रुकते हैं दीवाने
है जवानी ये दीवानी कोई समझाए क्या
कब रोकने से रुकते हैं दीवाने
तू है अभी नादान ज़रा सोच मेरी जान
रोज आते नहीं दिन ऐसे मस्ताने
ना ना ना मेरी जां देखो जाना न वहाँ
कोई प्यार का लुटेरा लूटे न मेरी जां
हा हा हा मेरी जां देखो जाना न वहाँ
कोई प्यार का लुटेरा लूटे न मेरी जां
रे बा बा ला ला ला ला ला

कहीं आँख न मिले कहीं दिल न लगा
तो प्यार का ज़माना किस काम आया
तो ये रुत ये घटा बोलो सोचेगी क्या
जो किसी का तो होंठों पे नाम आया
मैं चली मैं चली देखो प्यार की गली
मुझे रोके न कोई मैं चली मैं चली
ना ना ना मेरी जां देखो जाना न वहाँ
कोई प्यार का लुटेरा लूटे न मेरी जां
रे बा बा ला ला ला ला ला
....................................................................
Main chali main chali dekho-Padosan 1968

Artists: Saira Bano

Read more...

किसी ने जादू किया-चाँद और सूरज १९६५

जादू सीरीज़ के अंतर्गत आने वाला एक और गीत सुनते हैं.
इसे मुकेश ने गाया है फिल्म चाँद और सूरज के लिए. ये
सन १९६५ के फ़िल्मी चाँद और सूरज हैं.

गीत जैसा कि हम देख पा रहे हैं वीडियो में धर्मेन्द्र और
तनूजा पर फिल्माया गया है. शैलेन्द्र के बोल हैं और इस
गीत का संगीत सलिल चौधरी की देन है.



गीत के बोल:

किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या
मेरा मन मोह लिया मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या
मेरा मन मोह लिया मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या


कर के घायल वो मुझे बेख़बर हैं
मेरी आहें भी वहाँ बेअसर हैं
कर के घायल वो मुझे बेख़बर हैं
मेरी आहें भी वहाँ बेअसर हैं
ख़ूब है ये अदा मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या
मेरा मन मोह लिया मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या

रात मुश्किल से कटे दिन है भारी
रात मुश्किल से कटे दिन है भारी
सदा आँखों में रहे छब वो प्यारी
रात मुश्किल से कटे दिन है भारी
जीना अब उनके बिना हुआ मुश्किल
जान है उनमें बसी उन्हीं का दिल
मुझे क्या हो चला मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या
मेरा मन मोह लिया मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या

प्यार छुपता नहीं मैं क्या छुपाऊँ
कहे तो चीर के दिल मैं दिखाऊँ
प्यार छुपता नहीं मैं क्या छुपाऊँ
कहे तो चीर के दिल मैं दिखाऊँ
हुस्न दे के भला मैं करूँ क्या
किसी ने जादू किया मैं करूँ क्या
................................................................
KIsi ne jadoo kiya-Chand aur Suraj 1965

Artists: Dharmendra, Tanuja

Read more...

April 19, 2018

दो पल की है ये जिंदगानी-चला मुरारी हीरो बनने १९७७

फिल्म चला मुरारी हीरो बनने फिल्म से हमने आपको तीन
गीत सुनवा दिए हैं अभी तक. हमें समझ नहीं आया कि आप
बाकी के गीत सुनना चाहते हैं या नहीं इसलिए सुनवाए नहीं.

फिर भी हम आपको चौथा गीत सुनवा ही देते हैं इस फिल्म
से. योगेश के लिखे गीत को आशा भोंसले ने गाया है और
इसका संगीत आर डी बर्मन ने तैयार किया है. जिस अभिनेत्री
पर इसे फिल्माया गया है उसका नाम जैसे ही पता चलेगा
हम आपको तुरंत बतलायेंगे.

गीत कि धुन एक पुरानी फिल्म के गीत से मिलती है. वो
गीत भी आशा भोंसले ने ही गाया है. उस गीत के संगीतकार
एस डी बर्मन हैं.




गीत के बोल:

आसान हैं, सुन कर लिख लें.

................................................................
Do pal ki hai ye zindagani-Chala murari hero banne 1977

Artist: Maloom nahin

Read more...
© Geetsangeet 2009-2017. Powered by Blogger

Back to TOP