March 21, 2017

भेज कहार-माचिस १९९६

सन १९९६ की फिल्म माचिस से अगला गीत सुनते
हैं लता मंगेशकर का गाया हुआ. गुलज़ार के लिखे
गीत की धुन बनाई है विशाल भारद्वाज ने. फिल्म
का ये गीत थोडा कम सुना गया है.

जनता के अनुसार गुलज़ार के गीतों के साथ न्याय
आर डी बर्मन के बाद विशाल भारद्वाज ने किया है.
आजकल गुलज़ार बहुत सारे संगीतकारों के लिए
लिखते हैं, अब वो सब कितना न्याय करते हैं इस पर
ज्यादा चर्चा नहीं होती.



गीत के बोल:

भेज कहार  पिया जी बुला लो
कोई रात रात जागे
डोली पड़ी पड़ी द्योड़ी में
अर्थी जैसी लागे
भेज कहार  पाली जी बुला लो

साँझ ढले सूनी गली  दरवाजे तक आए
कोई नहीं आया अभी  इतनी खबर दे जाए
भेज कहार  पिया जी बुला लो
कोई रात रात जागे
भेज कहार  पाली जी बुला लो

आकाश में कागा उड़े  बैठे न मेरे बनेरे
ठंडी नमी जलती नहीं  फूँकूँ कहाँ तक अंधेरे
भेज कहार  पिया जी बुला लो
कोई रात रात जागे
भेज कहार  पाली जी बुला लो
………………………………………………..
Bheje kahaar-Machis 1996

Artists: Tabu, Chandrachud Singh

0 comments:

© Geetsangeet 2009-2016. Powered by Blogger

Back to TOP